18 अक्तूबर, 2009

सीएफएल से रोशन होगा प्रदेश

जबलपुर। प्रदेश का हर घर अब सीएफएल की रोशनी से जगमगाएगा। इसके लिए तीनों कंपनियों में कवायद शुरू की गई है। फिलहाल सबसे पहले मध्य क्षेत्र कंपनी में लागू किया गया है व इसी महीने शेष दोनों कंपनियों में भी बचत लैंप योजना को लागू करने की तैयारी की जा रही है।

इस योजना के अंतर्गत उपभोक्ता अपने ४०, ६० और १०० वॉट के बल्बों के बदले १०, १५ और २० वॉट के सीएफएल बदल सकते हैं और एवज में १५ रुपए प्रति सीएफएल देना होगा। सोमवार को मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भोपाल ने ग्रीन पाइंट एनर्जी लिमिटेड जयपुर के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इस दौरान कंपनी की ओर से मुख्य अभियंता वाणिज्य एसए अंसारी और ग्रीन पाइंट की ओर से निदेशक नीलेश गुप्ता मौजूद रहे। इस योजना के लागू होने से भोपाल व ग्वालियर क्षेत्र के १६ लाख उपभोक्ता लाभान्वित होंगे।

पूर्व क्षेत्र में भी इसी महीने होगी लागू- मध्यप्रदेश मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में भी बचत लैंप योजना को लागू करने की तैयारी कर ली गई है और इसके लिए अक्टूबर में ही एमओयू साइन कर लिए जाएंगे। वहीं पश्चिम क्षेत्र में भी योजना को शीघ्र लागू करने के प्रयास किये जा रहे हैं।

बचत लैंप योजना को पूर्व क्षेत्र कंपनी में इसी माह से लागू किया जाएगा और कंपनी से शीघ्र ही एमओयू साइन किए जाएंगे।

1 टिप्पणी:

  1. योजना अच्छी है बिजली खपत में कमी होगी तो उपलब्धता बढ़ जाएगी।

    उत्तर देंहटाएं

स्वागत है आपकी प्रतिक्रिया का.....